जिलाधिकारी सुनील कुमार का प्रयास रंग लाया है। बिहार दिवस पर जिले को बड़ी सौगात मिली है। आकांक्षी जिलों में कृषि एवं जल संसाधन सूचकांक में सीतामढ़ी जिला द्वारा अच्छा रैंक हासिल करनेपर नीति आयोग ने प्रोत्साहन राशि के रूप में जिले को तीन करोड़ की अतिरिक्त राशि आवंटित की है। राशि के आलोक में नीति आयोग ने कार्ययोजना मांगी थी। उसके आलोक में डीएम के निर्देशन में संबंधित पदाधिकारियों ने काफी होम वर्क कर 302.69 लाख की पांच कार्य योजनाओं का प्रस्ताव भेजा था।

22 मार्च को बिहार दिवस के ऐन मौके पर नीति आयोग द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित बैठक में उन योजनाओं की स्वीकृति की सूचना दी गई। डीएम के अनुसार, 27.03 लाख की लागत से हाई स्कूल डुमरा में साउंड सिस्टम सहित आधुनिक सुविधाओं से युक्त ओपेन एयर थियेटर लगेगा। 90.91 लाख की लागत से जिले में आधुनिक कृषि

यंत्र बैंक स्थापित होगा। जिसमें जिले के किसानों को ट्रैक्टर, रोटावेटर, कल्टीवेटर, जीरो टिलेज, थ्रेसर, राइस मिल सहित कई आधुनिक कृषि यंत्र की सुविधा काफी कम दर पर उपलब्ध होगी। इससे जिले के किसानों का कृषि उत्पादन में वृद्धि होगी। किसानों की आय भी बढ़ेगी। 58. 66 लाख की लागत से एक मशरुम स्पॉन उत्पादन इकाई लगेगी। जिससे जिले के मशरूम उत्पादक किसानों को उत्पादन लागत में कमी आएगी। गुणवत्तापूर्ण उत्पादन भी होगा। 51.06 की लागत से बेलसंड अनुमंडलीय अस्पताल में मॉड्यूलर

ओटी एवं ब्लड स्टोरेज यूनिट बैठेगा। जिससे सुदूर बेलसंड के लोगों को अपने घर पर ही चिकित्सकीय सुविधा मिलेगी।

बाला पेंटिंग पर आधारित नौ विद्यालयों में पढ़ाईः जिले के नौ चयनित स्कूलों में सभी आधुनिक आधारभूत सुविधाएं बहाल करने एवं बाला पेंटिंग से बच्चों को शिक्षा प्रदान करने की भी स्वीकृति प्राप्त हो गई है। जिसपर 74.45 लाख लागत आएगी। सभी स्कूलों में स्वच्छ शौचालय, हैंड वाश स्टेशन, खेल सामग्री, सुसज्जिकरण कर – उन्हें आदर्श स्कूल का रूप दिया

सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के ट्विटर हैंडल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.

Leave a Reply