सीतामढ़ी शहर के एसएलके कॉलेज में मंगलवार को नर्सरी टीचर ट्रेनिंग कोर्स का शुभारंभ भव्यता के साथ प्रारंभ हुआ। उद्यमिता विकास केंद्र के निदेशक मिथिलेश कुमार सिंह, प्राचार्य प्रोफेसर डॉ. अनिल कुमार सिन्हा एवं कोर्स समन्वयक प्रो. ललन कुमार राय ने दीप प्रज्वलित कर उद्घाटन समारोह की शुरुआत की।

इस अवसर पर सभा को संबोधित करते हुए प्राचार्य प्रो० डॉ० अनिल कुमार सिन्हा ने कहा कि इस कोर्स में अभ्यर्थियों को 3 से 6 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए तैयार किया जाना जाएगा। उन्होंने कहा कि भारत की नई शिक्षा नीति 2020 में बच्चों की शिक्षा पर विशेष बल दिया गया है और उसी क्रम में नर्सरी टीचर ट्रेनिंग कोर्स को प्रारंभ किया गया है।

कोर्स निर्देशक प्रो० सिन्हा ने अभ्यर्थियों से नियमित कक्षाओं में उपस्थित होने की अपील की। 80% वर्ग में उपस्थिति अनिवार्य है ।उन्होंने कहा कि बच्चों के मनोविज्ञान के आधार पर खेल खेल में शिक्षा दी जानी है। इसलिए सैद्धांतिक एवं प्रायोगिक दोनों आधार पर शिक्षकों अभ्यर्थियों को पढ़ाने का काम किया जाना है।

निदेशक मिथिलेश कुमार सिंह ने कहा कि मानव संसाधन विकास के लिए शिक्षा मूलभूत आवश्यकता है ।3 से 6 वर्ष तक के बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान देना होता है। ऐसे में अभ्यर्थियों को कुशलतापूर्वक बी प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्होंने एन टी टी के विषय में विस्तृत जानकारी दी।

उन्होंने महिलाओं को योग्यता और आत्मविश्वास बढ़ाने पर विशेष ज़ोर दिया ।अपने परिवार को कैसे रखे इसके विषय में भी जानकारी दी ।क्योंकि महिला हाई बच्चों की प्रथम शिक्षक होती है। स्वागत भाषण समन्वयक प्रो० ललन कुमार राय ने किया। अतिथियों का परिचय प्रो० देवेन्द्र प्रताप तिवारी ने कराया। मंच का संचालन प्रो० आलोक कुमार राय ने किया ।

धन्यवाद ज्ञापन प्रो० निखत फातिमा ने किया। कार्यक्रम में प्रो० सुजय कुमार, प्रो० पंकज कुमार, प्रो० मृत्युंजय कुमार, प्रो० विनोद कुमार सिन्हा, प्रो० सनवर अली, प्रो० चंदन कुमार सिंह, प्रो० सुरेश चन्द्र, प्रो० घनश्याम कुमार, डा० स्वाति, प्रो० अनामिका, प्रो० राजीव कुमार सिंह, श्री नागेन्द्र प्रसाद, अचलदेव प्रसाद, सुरेन्द्र लाल कर्ण सहित दो सौ से अधिक अभयर्थियों ने भाग लिया। आज से वर्ग प्रारंभ हो गया है।

© SITAMARHI LIVE | TEAM.

Leave a Reply