इस वक्त की बड़ी ख़बर सीतामढ़ी जिले के नगर थाना क्षेत्र के जानकी मंदिर चौक से आ रही जहाँ पुलिस और पब्लिक के बीच हाथापाई की घटना हुई है. स्थानीय लोग भी घटना को लेकर पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठा रहे हैं.

आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने महिलाओं से बदसलूकी की है. घटना के संबंध में पीड़ित पक्ष मनीष गुप्ता ने पुलिस पर मारपीट करने का आरोप लगाया है. मनीष गुप्ता की माँ सोभा गुप्ता जिला जदयू के समाज सुधार वाहिनी की जिलाध्यक्ष है.

सूत्र बता रहे हैं कि मनीष गुप्ता की स्कॉर्पियो पुपरी से सीतामढ़ी आ रही थी. इस दौरान जानकी मंदिर के समीप सड़क पर एक बच्चा दौड़ गया जिसपर ड्राइवर ने तेजी से ब्रेक लगा दिया. इस दौरान मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने स्कॉर्पियो गाड़ी की चाबी छीन ली.

बताया जा रहा है कि बच्चा व उसकी मां को खरोच तक नहीं आई थी. बावजूद इसके अभिनाश नामक किसी पुलिसकर्मी ने गाड़ी की चाबी नहीं लौटाई इसके बाद बवाल बढ़ गया. मनीष गुप्ता ने बताया कि उनके ड्राइवर ने फोन पर पूरी बात बताई. जब वह मौके पर पहुंचे तो पुलिस कर्मियों ने उनसे भी बदतमीजी की और मारपीट की.

इसके बाद जदयू नेता शोभा गुप्ता भी पहुंची जिनके साथ भी बदसलूकी हुई. घटना का वीडियो भी वायरल हो गया है. इसके बाद सभी लोग सड़क पर ही धरने पर बैठ गए. पुलिस ने कड़ी मशक्कत कर लोगों को समझा – बुझाकर शांत कराया है. इधर, हंगामा बढ़ता देख मौके से आरोपी पुलिसकर्मी अविनाश कुमार नौ-दो ग्यारह हो गया.

घटना की जानकारी मिलने पर सदर एसडीपीओ रमाकांत उपाध्याय, नगर थानाध्यक्ष विकास राय पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे हैं. एसडीपीओ रमाकांत उपाध्याय ने मीडिया कर्मियों को बताया कि सड़क पर धरना पर बैठने की जानकारी मिली थी तो वे मौके पर पहुंचे हैं और जाम हटवा दिया.

© SITAMARHI LIVE | TEAM.

Leave a Reply