सीतामढ़ी शहर के अंबेडकर चौक पर लगे बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर की मूर्ति पर माल्यार्पण को लेकर उस वक्त अफरातफरी का माहौल हो गया जब पुलिस ने एबीवीपी के छात्रों को रोक दिया. अंबेडकर जयंती के दिन दर्जनों छात्र उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करने आए थे.

दरअसल, गुरुवार को सीतामढ़ी में केंद्रीय ऊर्जा मंत्री का पावर ग्रिड के उद्घाटन को लेकर कार्यक्रम था. इससे पूर्व मंत्री को अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण करना था. प्रशासन ने गौशाला चौक स्थित प्रतिमा का चयन किया. इस दौरान प्रोटोकॉल का हवाला देकर प्रशासन ने इसकी घेराबंदी कर दी और पुलिस बल तैनात कर दिया.

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्र जब सुबह माल्यार्पण करने पहुंचे तो मौके पर तैनात पुलिस के जवानों ने रोक दिया. दर्जनों छात्र घंटो तक पुलिस से जिरह करते रहे. पुलिस ने उन्हें संविधान और प्रोटोकॉल की दुहाई दी. पुलिस ने अपनी बेबसी छात्रों के सामने जाहिर की जिसके बाद छात्र पीछे हटने को राजी हो गए.

पुलिस कर्मियों का कहना था कि केंद्रीय मंत्री का कार्यक्रम है और प्रोटोकॉल के मुताबिक यहां किसी को भी आने की अनुमति नहीं है. छात्रों की भीड़ देख मौके पर सदर एसडीएम, एसडीपीओ समेत अन्य पुलिस के जवान भी पहुंच गए. हालांकि कुछ ही देर में निराश होकर छात्र वहां से चले गए.

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्र नेता विकास निराला ने कहा कि मंत्री जी के आने में काफी वक्त था, अगर प्रशासन चाहती तो हमें माल्यार्पण करने दे सकती थी. उन्होंने कहा कि बाबासाहेब हम सभी के हैं. इस पर किसी अकेले के मंत्री का हक नहीं है.

© SITAMARHI LIVE | TEAM.

Leave a Reply