सीतामढ़ी के डुमरा प्रखंड के पकटोला गांव निवासी शिक्षक शंभू कुमार यादव के पुत्र दीपक (16) अब विदेश के अंतरराष्ट्रीय ग्राउंड में क्रिकेट का जलवा दिखाएगा। बुधवार को इंडियन नेशनल कारपोरेट लीग आईएनसीएल के द्वारा यूथ टैलेंटेड स्पोर्ट्स एसोसिएशन के माध्यम से दीपक का चयन किया गया है।

वर्तमान में क्रिकेट एकेडमी ऑफ बिहार से जुड़े दीपक आठवीं कक्षा से ही गांव के ग्राउंड पर धुआंधार बैटिंग करता रहा है। विकेट के कीपिंग में उसके बेहतर परफॉर्मेंस को लेकर उसका चयन हुआ है। बता दें कि अबू धाबी और शारजाह के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट ग्राउंड में दीपक बैटिंग व विकेटकीपिंग से अपना जलवा बिखेरेएगा।

यूएई में 5 वनडे और 3 T20 मैच खेलेगा दीपक
दीपक के अच्छे प्रदर्शन के बाद आईएनसीएल के युद्ध टैलेंटेड स्पोर्ट्स एसोसिएशन द्वारा दीपक को यूएई में आयोजित टूर्नामेंट में चयन किया गया है। वाह वहां पांच वनडे मैच तथा 3 T20 मैच खेलेगा। इसमें बेहतर प्रदर्शन के बाद उसका चयन अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए किया जाएगा। दीपक से हुई बात के बाद बताया कि वह अपने प्रदर्शन के आधार पर टीम इंडिया में शामिल होना चाहता है।

दीपक के पिता उत्क्रमित हाई स्कूल में सहायक शिक्षक के पद पर तैनात
बता दें कि दीपक के पिता शंभू कुमार यादव उत्क्रमित हाई स्कूल पकटोला, डुमरा में सहायक शिक्षक हैं। दीपक ने गांव के स्कूल से अपनी प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त की है और वर्तमान में वह एमपी हाई स्कूल में 12वीं का छात्र है। दीपक के चयन होने के बाद जहां परिवार के लोगों में खुशी है। वहीं जिले को गौरवान्वित करने के लिए जिला क्रिकेट एसोसिएशन ने भी बधाई दी है।

पिछले साल गोवा में डीआर गोल्ड क्रिकेट के लिए हुआ है चयन
पिछले साल अक्टूबर माह में गोवा कैंप के लिए भी दीपक का सेलेक्शन हो चुका है। दीपक वहां के ग्राउंड पर डीआर गोल्ड धोनी-रैना ट्रॉफी, मेहमान नवाजी ट्रॉफी और बेटी बचाओ ट्रॉफी में खेलेगा।

जिसका फरवरी माह के शुरूआत में ही आयोजन होना है। इसके बाद दीपक वही से टीम के साथ दुबई में क्रिकेट खेलने के लिए रवाना हो जाएगा। दीपक ने बताया कि क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बिहार से जुड़ कर वह पटना कॉलेजिएट, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, फतेहपुर आदि जगहों पर बैटिंग और विकेट कीपिंग का जलवा दिखा चुका है।

Leave a Reply