सीतामढ़ी में आरजेडी नेता का एक बयान सामने आया है जिसको लेकर राजनीतिक गलियारों में हलचल मच गई है। पूर्व सांसद रहे आरजेडी नेता अर्जुन राय ने मुख्यमंत्री का मानसिक संतुलन खराब होने का बयान दे दिया है। अर्जुन राय मेहसौल ओपी की हाजत में हुई मौत मामले में मृतक के परिवार वालों से मिलने पहुंचे थे।

बिहार में शराबबंदी कानून के सवाल पूछे जाने पर अर्जुन राय ने कहा कि “सरकार संस्थागत भ्रष्टाचार को बढ़ावा दे रही है। संस्थागत तरीके से बड़े पैमाने पर होम डिलीवरी और शराब का कारोबार हो रहा है। इसमें गरीब कुनबा के लोग मारे जा रहे हैं। जेल जा रहे हैं। एक भी बड़ा आदमी को इसमें पकड़ा नहीं गया है। पुलिस गांव घर में रहने वाले लोगों को परेशान करती है।”

आगे मीडिया कर्मियों को अर्जुन राय ने कहा कि ” सरकार को गरीब लोगों से कोई मतलब नहीं है। लंबे समय से नितीश कुमार जी छल और प्रपंच से मुख्यमंत्री बने बैठे हैं। उनका अब मानसिक स्थिति भी खराब हो चुका है। और जिसकी मानसिक स्थिति खराब हो चुकी है वह क्या निर्णय ले, इसकी कोई गारंटी नहीं है। इसलिए जनता को उनसे छुटकारा लेना चाहिए और हम लोग जनता की लड़ाई सड़क पर लड़ेंगे।

अर्जुन है कि इस बयान के बाद राजनीतिक गलियारों में गरमा गरमी का माहौल हो गया है। इस बाबत जदयू के जिलाध्यक्ष सत्येंद्र कुशवाहा से फोन पर संपर्क किया गया तो उन्होंने जदयू नेता की मौत में शामिल होने की बात कहकर फोन रख दिया। अर्जुन राय के इस बयान पर अबतक उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

© SITAMARHI LIVE | TEAM.

Leave a Reply