ट्रेनों में लंबी वेटिंग लिस्ट ने छठ के दौरान बिहार जानेवाली ट्रेन में उमड़ने वाले यात्रियों के सैलाब का इशारा कर दिया है। साल 2020 और 2021 में पहले की तुलना में कम लोग ही छठ से पहले गांव गए थे। इस बार परिस्थिति हुई है। दो साल बाद इस बार बिहार जानेवालों का रिकार्ड टूट सकता है।

इसके मद्देनजर रेलवे ने धनबाद से उत्तर बिहार के लिए स्पेशल ट्रेन चलाने को मंजूरी दी है। पहले छठ के दौरान स्पेशल ट्रेन एक से दो फेरे ही लगाती थी। इस बार रेलवे ने धनबाद पर दरियादिली दिखाई है। धनबाद से सीतामढ़ीके बीच दीवाली से छठ तक दोनों ओर से स्पेशल ट्रेन चार-चार फेरे लगाएगी।

इस ट्रेन के चलने से बरौनी, दलसिंह सराय, समस्तीपुर और दरभंगा के यात्रियों को भी नई ट्रेन का विकल्प मिल सकेगा। इस ट्रेन में जनरल के 6 स्लीपर 9, थर्ड एसी 5, सेकेंड एसी 1 और फर्स्ट सह सेकेंड एसी का एक काेच जुड़ेगा। स्पेशल ट्रेन की बुकिंग जल्द शुरू हो जाएगी।

दीवाली के लिए सुविधाजनक, छठ में यात्री मिलने की कम संभावना

इस साल दीवाली 25 अक्टूबर को है। ऐसे में 22 अक्टूबर से चलने वाली ट्रेन दीवाली में सफर करने वाले यात्रियों के लिए सुविधाजनक होगी। छठ 28 अक्टूबर को नहाय खाय से शुरू होगा। 29 को खरना, 30 को पहला अर्घ्य और 31 को उगते सूर्य को अर्घ्य के साथ समापन होगा। बिहार जानेवाली स्पेशल ट्रेन 29 अक्टूबर को चलेगी जबकि ट्रेनों में 27 अक्टूबर से ही छठ की भीड़ शुरू हो जाएगी। 30 को पहला अर्घ्य होने से 29 की रात खुलने वाली ट्रेन को यात्री नहीं मिलेंगे।

इन तिथियों में चलेगी ट्रेन 03317 धनबाद – सीतामढ़ी स्पेशल ट्रेन 22 अक्टूबर से 12 नवंबर तक हर शनिवार को चलेगी। धनबाद से रात 8:00 बजे खुलकर बराकर, चित्तरंजन, मधुपुर, जसीडीह, झाझा, बरौनी, किउल, बछवारा, दलसिंह सराय, लहेरिया सराय, समस्तीपुर, दरभंगा, कमतौल, जनकपुर रोड होकर सुबह 6:30 पर सीतामढ़ी पहुंचेगी। 03318 सीतामढ़ी – धनबाद स्पेशल 23 अक्टूबर से 13 नवंबर तक हर रविवार को चलेगी। सीतामढ़ी से सुबह 9:30 पर खुलेगी। रात 9:25 पर धनबाद पहुंचेगी। धनबाद से 10 घंटे मिनट में पहुंचाएगी जबकि वापसी में 11 घंटे 55 मिनट लगेंगे।

INPUT : JAGRAN